भबानीपुर अपर्णा शक्तिपीठ शेरपुर बगोरा बांग्लादेश | Bhabanipur Aparna Shakti Peeth Karatoyatat Sherpur Bogra Bangladesh

अपर्णा शक्तिपीठ एक ऐसी जगह है जहां देवी माता सती के बाईं पायल गिरी थी। यहां देवी को अपर्णा या अर्पान के रूप में पूजा की जाती है, जो कि कुछ भी नहीं खाती। भबानीपुर शक्तिपीठ बांग्लादेश के बगोरा जिले के शेरपुर कस्बे से 28 किलोमीटर दूर करतोय नदी के तट पर है। राजा रामकिशन ने 17वीं और 18वीं शताब्दी के बीच यहां 11 मंदिर बनवाए थे। तब उन्होंने इस मंदिर का भी जीर्णोद्धार करवाया था। यह शक्तिपीठ लगभग पांच एकड़ क्षेत्र में फैला है। यहां देवी के अपर्णा रूप की पूजा होती है। अपर्णा का अर्थ है- जो भगवान शिव को अर्पित है। यहां के भैरव का नाम वामन हैं।

जानिये पूरी दुनिया में कितनी शक्तिपीठ हैं और वे किन स्थानों पर हैं.